राहुल बनेंगे विपक्ष के नेता! सदन में लेंगे पीएम से सीधे मोर्चा

इस बार विपक्ष संख्या बल में काफी मजबूत स्थिति में है। ऐसे में सदन में अब गंभीर मुद्दों पर रोचक चर्चा होगी।

राहुल बनेंगे विपक्ष के नेता! सदन में लेंगे पीएम से सीधे मोर्चा

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी। (Photo @INCIndia)

लोकसभा चुनावों के नतीजे आने के बाद बीजेपी के बाद सबसे ज्यादा सीटें जीतने वाली पार्टी है कांग्रेस। विपक्षी दलों का इंडी गठबंधन का भी नेतृत्व कांग्रेस पार्टी कर रही है। ऐसे में माना जा रहा है कि कांग्रेस पार्टी का नेता ही लोकसभा में विपक्ष का नेता होगा। शनिवार को कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में सदस्यों ने वरिष्ठ नेता और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को नेता प्रतिपक्ष का दायित्व स्वीकार करने का आग्रह किया। लोकसभा में विपक्षी दलों में सबसे बड़ी पार्टी के संसदीय दल का नेता विपक्ष का नेता होता है। अगर राहुल विपक्ष का नेता पद स्वीकार करते हैं तो वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सीधे मुखातिब होंगे। इस बार विपक्ष संख्या बल में काफी मजबूत स्थिति में है। ऐसे में सदन में अब गंभीर मुद्दों पर रोचक चर्चा होगी। चुनाव से पहले विपक्षी दलों के गठबंधन इंडिया का नेतृत्व कर रही कांग्रेस पार्टी का दावा था कि सत्ता में आने पर राहुल गांधी प्रधानमंत्री बनेंगे। हालांकि इंडिया गुट को सरकार बनाने लायक सीटें नहीं मिल सकीं।

कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव में 99 सीट जीती हैं। पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे की अध्यक्षता में हुई कांग्रेस कार्य समिति (CWC) की बैठक में लोकसभा चुनाव में पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी के योगदान की सराहना भी की गई और इसको लेकर एक प्रस्ताव भी पारित किया गया। विस्तारित कार्य समिति की बैठक में पार्टी संसदीय दल की प्रमुख सोनिया गांधी, पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा, संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल और कार्य समिति के अन्य सदस्य एवं वरिष्ठ नेता मौजूद रहे। कार्य समिति ने राहुल गांधी से नेता प्रतिपक्ष की जिम्मेदारी संभालने का आग्रह करते हुए भी एक प्रस्ताव पारित किया। 

कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने संवाददताओं से कहा कि कार्य समिति ने सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित कर आग्रह किया कि राहुल गांधी नेता प्रतिपक्ष की जिम्मेदारी संभालें। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने कार्य समिति के सदस्यों के विचार सुने और कहा कि वह इस बारे में जल्द फैसला करेंगे। कार्य समिति की बैठक में उन राज्यों के परिणाम को लेकर भी चर्चा गई जहां पार्टी का प्रदर्शन निराशाजनक रहा है। कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने कहा, ‘‘जिन राज्यों में हमारा प्रदर्शन उम्मीद से कम रहा है, उनकी समीक्षा के लिए समिति का गठन किया जाएगा। समिति अपनी रिपोर्ट कांग्रेस अध्यक्ष को सौंपेगी।’’

कौन होता है विपक्ष का नेता?

लोकसभा में विपक्ष का नेता वह होता है जो विपक्ष में सबसे बड़े दल का नेता हो। उसके दल को सदन की कुल सीटों के दसवें हिस्से में जीत मिली हो। वह सरकार की नीतियों का रचनात्मक आलोचना करता हो और वैकल्पिक व्यवस्था देने में सक्षम हो। विपक्ष के नेता को कैबिनेट मंत्री के बराबर वेतन, भत्ते और अन्य सुविधाएं मिलती हैं। विपक्ष के नेता के पद का उल्लेख संविधान में नहीं बल्कि संसदीय संविधि में है।

0 Comments

Leave a Reply